WhatsApp Group Join Now
Telegram Group (3.1K+) Join Now
नरमा कपास ग्वार मुंग मोठ के किसान इस ग्रुप से जुड़े Join Now

2 अक्टूबर से DAP भारत ब्रांड के नाम से उपलब्ध होंगी सरकार ने दिए बोरियां बदलने के निर्देश

एक देश-एक फर्टिलाइजर: रुकेगी खाद की चोरी
02 अक्टूबर से ‘भारत’ ब्रांड
के तहत बिकेंगे सभी उर्वरक खाद की बोरियों
पर दर्ज लोगो से यह स्पष्ट हो जाएगा कि
उर्वरक केंद्रीय सब्सिडी वाली हैं।
उर्वरकों की चोरी और कालाबाजारी रोकने के लिए केंद्र ने उठाया ये कदम प्रधानमंत्री जन उर्वरक परियोजना के तहत एक देश-एक फर्टिलाइजर
योजना लागू कर दी है। इससे आगामी रबी सीजन से किसानों को एक जैसी खाद मिलेगी। यह कंपनियों की बजाय भारत ब्रांड
नाम से जानी जाएगी। इस योजना के अंतर्गत यूरिया, डीएपी, एमओपी और एनपीके ‘भारत’ ब्रांड के नाम
से उपलब्ध होंगे। केंद्र ने यह निर्देश सभी उर्वरक कारखानों, ट्रेडिंग और मार्केटिंग कंपनियों को दिया है।
ऐसे रुकेगी चोरी
भारत ब्रांड के तहत खाद बिकने से फर्टिलाइजर चोरी को घटाने में मदद मिलेगी
खाद की बोरी पर एक साइड के दो तिहाही हिस्से पर नए ब्रांड और लोगो का उल्लेख
होगा। बाकी एक तिहाई में कंपनी अपना ब्यौरा और
निर्धारित तथ्य प्रिंट करेगी। प्रत्येक बोरी पर प्रधानमंत्री
भारतीय जन उर्वरक योजना छपा रहेगा। इससे चोरी
रोकने में मदद मिलेगी। यदि
कालाबाजारी होती है तो भी
जल्द पकड़ा जा सकेगा।
पुरानी बोरियों को खपाने की डेडलाइन तयः सभी
कंपनियों से कहा गया है कि वे 19 सितंबर, 2022 के बाद पुरानी डिजाइन
और लोगो वाली बोरियों की खरीद न करें। नए ब्रांड के फर्टिलाइजर 2 अक्टूबर 2022 से बाजार में उतारे जाएंगे। कंपनियों को अपनी पुरानी बोरियों को खपाने के लिए 21 दिसंबर 2022 तक का समय दिया गया है।

अन्य जानकारी 👈 क्लिक करें

Leave a Comment