स्पिनिंग मिलों की खरीद बढ़ने से कर्नाटक में कॉटन के दाम तेज, दैनिक आवकों में बढ़ोतरी

स्पिनिंग मिलों की खरीद बढ़ने से कर्नाटक में कॉटन के दाम तेज, दैनिक आवकों में बढ़ोतरी

नई दिल्ली, 13 फरवरी (कमोडिटीज कंट्रोल) स्पिनिंग मिलों की खरीद बढ़ने के कारण कर्नाटक की मंडियों में सोमवार को कॉटन के भाव तेज हो गए, जबकि राज्य की मंडियों में कपास की दैनिक आवकों में बढ़ोतरी दर्ज की गई।

राज्य के कपास उत्पादक क्षेत्रों में मौसम साफ है। व्यापारियों के अनुसार राज्य में कॉटन के भाव में सुधार आया है, हालांकि धागे में स्थानीय एवं निर्यात मांग सामान्य की तुलना में कमजोर है इसलिए मिलों को मौजूदा कीमतों में ज्यादा मुनाफा नहीं हो रहा। राज्य की मंडियों में कपास की आवकों में सुधार तो आया है लेकिन कुल आवक पिछले साल की तुलना में कम हुई हैं। जानकारों के अनुसार बंगलादेश आदि को कॉटन के निर्यात सौदे भी हुए हैं, लेकिन निर्यात सौदे सीमित मात्रा में ही हो रहे हैं। इसलिए हाजिर बाजार में कॉटन की कीमतों में अभी सीमित तेजी, मंदी रहने के आसार हैं।

घरेलू वायदा बाजार में आज कॉटन की कीमतों में मिलाजुला रुख देखा गया। एनसीडीईएक्स पर अप्रैल-23 वायदा अनुबंध में कपास की कीमतें 0.77 फीसदी तेज हो गई।

सोमवार को राज्य की मंडियों में कपास की आवक 12,000 गांठ की हुई, एक गांठ-170 किलो की हुई जबकि पिछले कारोबारी दिवस में आवक 8,000 गांठ की हुई थी।

राज्य की मंडियों में आज बिनौला के भाव 3400 से 3500 रुपये और कपास के भाव 7,400 से 8,150 रुपये प्रति क्विंटल रहे।

राज्य की मंडियों में 29.5/30 एमएम कॉटन के भाव 63,000 से 63,500 रुपये, और 29 एमएम कॉटन के दाम 62,500 से 63,000 रुपये तथा 29 एमएम कॉटन के भाव 62,000 से 62,500 रुपये प्रति कैंडी हो गए।

नरमा कपास का भाव 👉क्लिक करें

नैनो DAP को मिली मंजूरी 👉 क्लिक करें

Leave a Comment