मौसम_अपडेट: उत्तर भारत के सीमित मैदानी भागों में हल्का सक्रिय होगा मॉनसून, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली औऱ यूपी में बढ़ेगी हल्की बारिश की गतिविधियां:

मौसम_अपडेट: उत्तर भारत के सीमित मैदानी भागों में हल्का सक्रिय होगा मॉनसून, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली औऱ यूपी में बढ़ेगी हल्की बारिश की गतिविधियां:

पीपोस्ट ऑल क्रेडिट sahil bhatt

बंगाल की खाड़ी में किसी भी LPA के नही बनने से मॉनसून Axis हिमालय के तराई इलाकों में शिफ्ट हो गई है। जिससे ज्यादातर भारत के इलाकों में मॉसम साफ और गर्म हो गया है।

मॉनसून की बारिश का गढ़ कहे जाने वाले मध्य भारतीय मैदानी हिस्से औऱ पश्चिमी घाटो पर भी बारिश रुकी हुई है। खामियाजा उत्तर भारत भी भुक्त रहा है। उत्तर के बड़े भाग पर पिछले 10 दिनों से मॉनसून में सुस्ती बनी हुई।

सिर्फ हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश का तराई क्षेत्र, नेपाल, बिहार, उत्तरी बंगाल, असम, मेघालय व अरुणाचल प्रदेश में मॉनसून सक्रिय हैं। हर रोज कभी हल्की कभी भारी बारिश इन इलाकों के देखी जा रही है।
साथ मे तराई वाले पंजाब व हरियाणा में भी बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात लगभग हर रोज़ हो रही है।

अगले 2 दिन हल्के मोसमी बदलाव से मॉनसून axis थोड़ी दक्षिण में उतरेगी। जिससे बारिश तराई क्षेत्र से आगे बढ़कर अंदरूनी पंजाब, मध्य हरियाणा, दिल्ली व यूपी के अन्य भागों को प्रभावित करेगी।

पूर्वी राजस्थान व पश्चिमी मध्यप्रदेश में भी कुछ जगह हल्की बारिश के आसार बन रहे हैं।

Monsoon के कमजोर होने का कारण:

01) प्रशान्त महासागर में EL-NINO प्रभावी हो रही है। जिससे भारत मे बारिश में कमी आ रही है।

02) MJO बेहद कमजोर स्तिथि में चली गई है। जिसके कारण न तो LPA बन रहे हैं न ही उत्तर भारत को कोई सक्रिय WD प्रभावित करने आ रहे हैं।
MJO फिलहाल Phase 7 में है। औऱ weak amplitude के साथ limited ring में ही घूम रही है। आने वाले 2-3 हफ़्तों तक MJO किसी भी सक्रीय स्तिथि में नही दिख रही।
20 Aug के बाद उम्मीद है। MJO की स्तिथि ठीक होगी। जिससे अगस्त के अंत से बारिश में बढ़ोतरी होने की कयास लगाए जा सकते हैं।

कल का मौसम पूर्वानुमान:

कल जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश में बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात की गतिविधियां बनी रहेगी। कुछ जगह तेज़ बारिश भी हो सकती है।

उत्तराखंड में कई जगह हल्की से मध्यम बारिश बनी रहेगी। कुछ जगह भारी बारिश भी संभव है।

पंजाब:

पठानकोट, गुरुदासपुर, होशियारपुर, अमृतसर, तरनतारन, कपूरथला, जालंधर, पूर्वी लुधियाना, नवांशहर, रूपनगर, फतेहगढ़ साहिब, पटियाला, मोहाली व चंडीगढ़ में गरज़ के साथ बिखरी हुई हल्की से मध्यम बारिश होगी। कुछ जगह भारी बारिश भी हो सकती है।

फिरोजपुर, मोगा, पश्चिमी लुधियाना, मलेरकोटला, संगरूर, मानसा, भटिंडा व बरनाला जिले में बादलवाही के बीच हल्की बारिश होने की उम्मीद है। एक-दो जगह तेज़ बौछारे भी गिर सकती है।

फरीदकोट, फाजिल्का व मुक्तसर जिले में मौसम लगभग साफ औऱ गर्म रहेगा। दोपहर बाद के समय कही-2 हल्की बारिश या बूंदाबांदी होने की उम्मीद है।

हरियाणा:
पंचकूला, यमुनानगर, अम्बाला, कुरुक्षेत्र, कैथल, करनाल, पानीपत, सोनीपत में गरज़ के साथ बिखरी हुई हल्की से मध्यम बारिश होगी। कुछ जगह भारी बारिश भी हो सकती है।

जींद, रोहतक़, झज्जर, दिल्ली, फरीदाबाद, पलवल, मेवात, गुड़गांव, रेवाड़ी, महेंद्रगढ़, दादरी, भिवानी, हिसार, फतेहाबाद जिले में बादलवाही के बीच कुछ जगह हल्की बारिश होने की उम्मीद है। एक-दो जगह तेज़ बौछारे भी गिर सकती है।

सिरसा में मॉसम मुख्यतः साफ औऱ गर्म बना रहेगा। दोपहर बाद के समय कही-2 हल्की बारिश या बूंदाबांदी हो सकती है।

राजस्थान:
बांसवाड़ा, प्रतापगढ़ व चित्तौड़गढ़ जिले में बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात की संभावना है। कही-2 तेज़ बरसात भी हो सकती है।

सिरोही, डूंगरपुर, राजसमंद, सलूम्बर, उदयपुर, झालावाड़, बारां, पूर्वी हनुमानगढ़, पूर्वी चूरू, झुंझुनूं, नीमकाथाना, जयपुर, कोटपूतली, खैरथल, अलवर, डीग, भरतपुर, धौलपुर, गंगापुर, करौली, दौसा जिले में आंषिक बदलवाही के बीच कही-2 बूंदाबांदी या हल्की बारिश होने की कुछ उम्मीद है।

शेष राजस्थान में बारिश की कोई उम्मीद नहीं है। मौसम लगभग साफ व गर्म ही बना रहेगा।

उत्तरप्रदेश:
आजमगढ़, गोरखपुर, अयोध्या, बस्ती, देवीपपाटन सम्भाग के जिलो में कई जगह मध्यम से भारी बारिश होगी। कुछ जगह अति भारी बारिश भी होगी।

उत्तर लखनऊ, बरेली, मुरादाबाद, मेरठ व सहारनपुर संभाग के जिलो में बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात होगी। कुछ जगह तेज़ बरसात भी होगी।

मिर्जापुर, वाराणसी, प्रयागराज, चित्रकूट, दक्षिण लखनऊ, कानपुर, झाँसी, आगरा व अलीगढ़ संभाग के जिलो में मॉसम आंषिक बादलवाही के बीच मुख्यतः साफ औऱ गर्म बना रहेगा। दोपहर बाद के समय कही-2 हल्की बारिश या बूंदाबांदी हो सकती है।

मध्यप्रदेश:
राज्य के सिर्फ रतलाम व उज्जैन जिले में कुछ जगह बिखरी हुई हल्की से मध्यम बारिश होने की उम्मीद है।

शेष मध्यप्रदेश में मौसम आंषिक बादलवाही वाला रहेगा। दोपहर बाद छिटपुट जगह बूंदाबांदी की गतिविधियां हो सकती है।

आगे क्या:
कल के बाद 11 अगस्त के दौरान भी मौसम में थोड़ी हलचल बनी रहेगी। उपरलिखित जिले में जहां बारीश की संभावना व्यक्त की गई है वहां परसो भी कुछ जगह हल्की बारिश की उम्मीद है।

जहाँ बारिश नही बताई गई वहाँ आगे भी मौसम साफ औऱ गर्म ही रहने वाला है।

मॉनसून आगे 16/17 अगस्त तक सुस्त रहेगा। 17 अगस्त के आसपास बंगाल की खाड़ी में एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बनने की उम्मीद है। जो मध्य भारत मे बारिश लेकर आ सकता है।

समुद्र में चक्रवाती सिस्टम के बनने से Monsoon Axis भी हिमालय के तलहटी इलाकों से उतरकर वापिस मैदानी इलाकों में आने की उम्मीद है, जिससे बारिशें दोबारा से उत्तर भारत मे सक्रिय हो सकती है।

आगे की जानकारी समयानुसार दे दी जाएगी।

©WOB

Leave a Comment