WhatsApp Group Join Now
Telegram Group (3.1K+) Join Now
नरमा कपास ग्वार मुंग मोठ के किसान इस ग्रुप से जुड़े Join Now

मिलों की मांग कमजोर होने से उत्तर भारत के राज्यों में कॉटन के भाव नरम, दैनिक आवक रुकी

vijaypal chahar
4 Min Read

मिलों की मांग कमजोर होने से उत्तर भारत के राज्यों में कॉटन के भाव नरम, दैनिक आवक रुकी

नई दिल्ली, 11 अप्रैल (कमोडिटीज कंट्रोल) स्पिनिंग मिलों की मांग कमजोर होने के कारण उत्तर भारत के राज्यों पंजाब, हरियाणा और राजस्थान की मंडियों में मंगलवार को कॉटन के भाव नरम हो गए, जबकि इन राज्यों की मंडियों में कपास की दैनिक आवक रुक गई।

विदेशी बाजार में सोमवार को कॉटन की कीमतों में नरमी का रुख रहा। मई-23 वायदा अनुबंध में कॉटन की कीमतें 75 सेंट कमजोर होकर 82.45 सेंट रह गई। इस दौरान जुलाई-23 वायदा अनुबंध में इसके दाम 74 सेंट कमजोर होकर 82.73 सेंट रह गए। दिसंबर-23 वायदा अनुबंध में इसके दाम 61 सेंट कमजोर होकर 82.63 सेंट रह गए। आज भी आईसीई के इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग में कॉटन के भाव कमजोर खुले हैं

उत्तर भारत के कपास उत्पादक क्षेत्रों में मौसम साफ है। व्यापारियों के अनुसार घरेलू बाजार में स्पिनिंग मिलों की खरीद कमजोर होने से कॉटन की कीमतें नरम हुई है। इन राज्यों की मंडियों में कपास की आवक अभी भी बनी हुई है, जबकि धागे में स्थानीय एवं निर्यात मांग सामान्य की तुुलना में कमजोर है। इसलिए इन राज्यों की स्पिनिंग मिलें सीमित मुनाफे में कार्य कर रही हैं। अत: मिलें जरुरत के हिसाब से ही कॉटन की खरीद कर रही है। हालांकि इन राज्यों की जिनिंग मिलों को अभी भी डिस्पैरिटी का सामना करना पड़ रहा हैं, इसलिए मिलें कॉटन की बिकवाली दाम घटाकर नहीं करना चाहती। साथ ही पड़ते नहीं लगने के कारण इन राज्य की अधिकांश छोटी जिनिंग मिलें उत्पादन बंद कर चुकी हैं। इसलिए कॉटन की मौजूदा कीमतों में अभी बड़ी गिरावट के आसार भी नहीं है।

उत्तर भारत के राज्यों कपास की अगती फसल की बुआई आरंभ हो चुकी हैं। किसानों के अनुसार जिन खेतों से सरसों की कटाई हो चुकी है, उनमें कपास की बुआई की जा रही है।

उत्तर भारत के राज्यों में हरियाणा एवं राजस्थान तथा पंजाब की मंडियों में कपास की आवक 9,000 गांठ की हुई, जबकि पिछले कारोबारी दिवस में आवक इतनी ही गांठ की हुई थी।

घरेलू वायदा बाजार में आज कॉटन की कीमतों में गिरावट का रुख देखा गया। एनसीडीईएक्स पर अप्रैल-23 वायदा अनुबंध में कपास की कीमतें 17.5 रुपये कमजोर होकर भाव 1,605 रुपये प्रति 20 किलो रह गई। इस दौरान एमसीएक्स पर अप्रैल-23 वायदा अनुबंध में कॉटन की कीमतें 220 रुपये कमजोर होकर 63,100 रुपये प्रति कैंडी रह गई।

कपास के भाव पंजाब एवं हरियाणा लाईन की मंडियों में 7,100 से 8,000 रुपये प्रति क्विंटल बोले गए, जबकि ऊपरी राजस्थान लाईन में इसके भाव 7,200 से 8,200 रुपये प्रति क्विंटल रह गए। बिनौला के भाव पंजाब और हरियाणा लाईन में 3,200 से 3,625 रुपये एवं ऊपरी राजस्थान लाईन में 3,300 से 3,725 रुपये प्रति क्विंटल बोले गया।

पंजाब में रुई हाजिर डिलीवरी के भाव 6,275 से 6,375 रुपये प्रति मन यानि कैंडी के हिसाब से 59,700 से 60,700 रुपये बोले गए।

हरियाणा में रुई के भाव हाजिर डिलीवरी के 6,275 से 6,375 रुपये प्रति मन, यानि कैंडी में 59,700 से 60,700 रुपये बोले गए।

ऊपरी राजस्थान में रुई के भाव हाजिर डिलीवरी के 6,475 से 6,575 रुपये प्रति मन, यानि कैंडी में 61,600 से 62,600 रुपये बोले गए।

राजस्थान के पिलानी में रुई के भाव हाजिर डिलीवरी के 6,475 से 6,575 रुपये प्रति मन बोले गए।

लोअर राजस्थान में रुई के भाव हाजिर डिलीवरी के 60,800 से 62,500 रुपये कैंड़ी हो गए।

दिल्ली भाव चना,मूंग,मोठ,गेहूं आदि भाव 👉 क्लिक करें

ग्वार गम,सोना,चांदी, जीरा उछाल आदि जानकारी 👉 क्लिक करें

Follow:
विजयपाल चाहर
Leave a comment
error: Content is protected !!