भारत ने पाकिस्तान को क्यों दे दिए अपने 12 गांव

आखिर क्यों भारत ने पाकिस्तान को पंजाब के Hussainiwala गांव के लिए अपने 12 गांव दे दिए आइए जानते हैं इसके पीछे की वजह दरशल 1947 में भारत पाकिस्तान का बंटवारा हुआ तो बंटवारे के समय पंजाब में मौजूद Hussainiwala नाम का गांव पाकिस्तान के हिस्से में चला गया था लेकिन आजादी के बाद भारत सरकार ने इस गांव को भारत में वापस लाने के लिए पाकिस्तान से बातचीत शुरू की लेकिन पाकिस्तान इतना मक्कार है ये तो हम सब लोगो को पता है पाकिस्तान ने इस मौके का फायदा उठाते हुए कहा कि वो एक गाव भारत को देने के लिए तैयार है लेकिन इसके बदले में भारत को अपने 12 गांव पाकिस्तान को देने होंगे इस पर बहुत सोच समझने के बाद भारत सरकार ने अपने 12 गांव पाकिस्तान को देकर वो एक गाव भारत में शामिल करवा लिया था

लेकिन अब सवाल ये उठता है ऐसा क्या था उस गांव में जो भारत को ऐसा करना पड़ा दरसअल पंजाब में वो Hussainiwala गांव वहीं गांव है जहां पर महान क्रांतिकारी भगत सिंह,राज गुरु सुखदेव को फांसी देने के बाद उनका अंतिम संस्कार किया गया था अब भारत माता के शहीदों के लिए 12 गांव की कुर्बानी कोई बड़ी बात नहीं है

Leave a Comment